पटवारी कैसे बने | पटवारी की जानकारी – सिलेबस,योग्यता, किताबे

पटवारी कैसे बने 2022 – 2023 (how to become patwari) में आज हम इस पोस्ट के माध्यम से पटवारी कैसे बने | पटवारी की पूरी जानकारी देखेंगे , इससे रिलेटिव आपके मन में जो भी छोटे से भी छोटा प्र्शन हो हम उसे लेकर चलेंगे ताकि आप जब पटवारी एग्जाम की तैयारी करने बैठे तब आपको इससे संबंधित कोई भी समस्या से न झूझना पड़े।

बहुत से ऐसे कैंडिडेट है जिनका सपना सिर्फ सरकारी नौकरी पाने का होता है देखा जाय तो राज्य में वैकेंसी निकलने पर ही फॉर्म apply किये जाते है। बैसे मध्य प्रदेश में काफी समय के बाद 2017 से 2022 में अब जाकर mp पटवारी की परीक्षा निकली है और इसके सिलेबस में भी बदलाव किया गया है पैटर्न सहित तो इसके अपडेट के बारे में भी जानकारी लेना बाकि है।  इस पोस्ट में हम जानेंगे – पटवारी कैसे बने , पटवारी क्या होता है. इसका सिलेबस और पैटर्न क्या है आदि।

Table of Contents

 पटवारी कैसे बने (how to become patwari)

पटवारी कैसे बने :- पटवारी बनने के लिए आपके पास 10वीं, 12वीं पास की मार्कशीट आपके पास स्नातक की डिग्री होनी चाहिए। इसके बाद आपके पास सरकारी मान्यता प्राप्त संस्थान से 1 वर्ष का कंप्यूटर डिप्लोमा (DCA, PGDCA) और CPCT प्रमाणपत्र भी होना जरुरी है।

पटवारी बनने के लिए आपको राज्य सरकार द्वारा जारी किये गए परीक्षा को पास करना होता है जिसमे सामान्य हिंदी,सामान्य गणित , सामान्य अंग्रेजी,सामान्य ज्ञान, तार्किक ज्ञान,रीजनिंग,कंप्यूटर ज्ञान,सामान्य प्रबंधन सबंधित विषय के बारे में आपसे टेस्ट लेता हैपरीक्षा पास करने के बाद आपको पटवारी का पद नियुक्त किया जाता है. इसमें शैक्षणिक योग्यता 12th या स्नातक कर दी गयी है।अलग – अलग राज्यों में शैक्षणिक  योग्यता  भिन्न  हो सकती है फिर भी किसी भी मान्यता विश्वविधायल से स्नातक को पूरा जरुर करे। सिलेबस को अच्छे तरीके से समझने के लिए यह पोस्ट जरूर पड़े। Update MP Patwari Syllabus 2022 (हिंदी में) New पैटर्न पर आधारित

MP पटवारी परीक्षा पैटर्न 2022 -2023 

  • विषय – सामान्य हिंदी,सामान्य गणित, सामान्य अंग्रेजी,सामान्य ज्ञान, तार्किक ज्ञान,रीजनिंग,कंप्यूटर ज्ञान,सामान्य प्रबंधन
  • पार्ट – A और B पार्ट में विषय बाटे जाते है।
  • अंक – प्रत्येक विषय 25 अंक का होता है।
  • टोटल अंक 100 +100 = 200 अंक का रहता है।
  • आपका पूरा एग्जाम कुल 03 घंटे का होगा ।
  • परीक्षा का प्रकार:-वस्तुनिष्ट
  • भाषा प्रकार – हिंदी और अंग्रेजी दोनों शामिल
  • नकारात्मक अंकन – उत्तर गलत होने की स्थिति में एक-तिहाई  (1/3) नकारात्मक अंकन पद्धति की व्यवस्था नहीं होती है।
  • पेपर माध्यम – केवल ऑनलाइन

पटवारी क्या होता है

पटवारी की शुरुआत  शेरशाह के शासन काल से हुयी थी और बाद में अकबर ने इस प्रणाली को बड़ाया था तब से लेकर आज तक 1998  में सभी गाँवो में यह यह प्रणाली जारी की गयी और सरकार प्रतिनिधि के रूप में लेखपाल या पटवारी के नाम से नियुक्त कर दिया गया।

पटवारी जिसे लेखपाल के नाम से भी जाना जाता है अर्थात पटवारी गाँव का खाता या गाँव का प्रशासनिक अधिकारी होता है जिसे राज्य विभाग का एक सरकारी कर्मचारी कहा जाता है।  पटवारी के मुख्य कार्य, जो गाँव के भूमि रिकॉर्ड को बनाए रखने के लिए जिम्मेदार होत है। अर्थात गाँव में रहने वालों  लोगों के ज़मीन , खेत  और अभिलेखों  को बनाए रखने के लिए जिम्मेदार  है जैसे –

  • गाँव में उगाई जाने वाली सभी फसलों को रिकॉर्ड करना।
  • सभी भूमि और उनके स्वामित्व का अद्यतन रिकॉर्ड रखना शामिल है।
  • पटवारी भू-राजस्व, सिंचाई बकाया और अन्य कर भी वसूल करता है।

राज्य सरकार समय-समय पर पटवारी से सम्बंधित पदों के लिए अधिसूचना जारी करती है। अधिसूचना में MP पटवारी के लिए योग्यता , पदों की संख्या तथा परीक्षा के विषय में पूरी जानकारी होती है।

पटवारी के लिए योग्यता

उम्मीदवारों के पास एमपी पटवारी भर्ती 2022 के हिसाब से Patwari qualification के लिए योग्य मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक की डिग्री होनी आवश्यक है  प्रदान किए गए प्रमाण पत्र अनुमोदित (Approved) होने चाहिए। हर राज्य में patwari qualification अलग-अलग हो सकती है।

10वी और 12वी पास करे

पटवारी बनने के लिए सबसे पहले आपको किसी भी मान्यता स्कूल से 10th और 12th पास करनी होगी चाहें आप किसी भी विषय से पास करे। जिसमे न्यूनतम अंक 45 – 50% से ऊपर होने चाहिए। 

ग्रैजुएशन कम्लीट करे

इस परीक्षा का फॉर्म भरने के लिए मान्यता यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन का पूरा होना जरुरी है। तभी आप इसको apply कर सकते है।  

 कंप्यूटर कोर्स करे

graduation करने के बाद आप कम्प्यूटर कोर्स को पूरा करे 1 वर्ष का कंप्यूटर डिप्लोमा (DCA, PGDCA) एवं CPCT सर्टिफिकेट कर सकते है। यदि आप के पास valid document नहीं है, तो वे चयन के दो साल के भीतर इसे जमा कर सकते है।

पटवारी के लिए आयु सिमा

आवेदकों की आयु 18-40 वर्ष के बीच होनी चाहिए। केवल आरक्षित श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए ऊपरी आयु सीमा में छूट की अनुमति है। एमपी

पटवारी के लिए आवेदन करें 

अब आप वैकेंसी आने पर पटवारी का फॉर्म भर सकते है जैसे अभी मध्यप्रदेश में 05-01-2023 से 19-01-2023 तक फॉर्म भरे जायेंगे। 

अब पटवारी एग्जाम को देने के लिए इसकी तैयारी पुरे लग्न और मेहनत से  करे और एग्जाम  में पास हो इन सभी टेस्ट को पास करने के बाद आपके  पास एक पटवारी का पद मिलता है।

MP पटवारी सिलेबस 2022

  हिंदी साहित्य – एमपी पटवारी सिलेबस

  • हिंदी साहित्य का इतिहास
  • काव्य की रीतियाँ , काव्य गुण व दोष
  • भारत की राजभाषा हिंदी के लिए संविधानिक प्रावधान
  • बोध शक्ति
  • प्रशासनिक शब्दावली
  • वर्ण विचार स्वर और व्यंजन
  • शब्द विचार प्रयोग ,उत्पत्ति ,रचना ,अर्थ के आधार पर
  • वाक्य विचार
  • संधि स्वर , व्यंजन और विसर्ग
  • समास
  • उपसर्ग , प्रत्यय
  • वाक्यांश के लिए शब्द
  • शब्द युग्म
  • मुहावरे लोकोक्तियाँ
  • विराम चिन्ह
  • वर्तनी और वाक्य शुद्धि
  • रस ,छंद , अलंकार।

सामन्य विज्ञानं – एमपी पटवारी पाठ्यक्रम

  • फिज़िक्स :- भार, द्रव्यमान, आयतन, अपवर्तन, अपवर्तन, पारदर्शिता, गति के नियम और गुरुत्वाकर्षण आदि।
  • रसायन विज्ञान :- रासायनिक प्रतिक्रिया, विभिन्न अम्ल, क्षार और गैस, नमक धातु और गैर-धातु, रासायनिक सूत्र संतुलन और उनके तथ्य आदि।
  • जीवविज्ञान:- मानव शरीर की संरचना, बैक्टीरिया और रोग और रक्त कोशिकाएं आदि।

 NEW! GENERAL MANAGEMENT – एमपी पटवारी सिलेबस

  • प्रबंध / Management
  • वैज्ञानिक प्रबंध  Scientific Management
  • नेतृत्व / Leadership
  • अभिप्रेणा / Motivation
  • संचार / Communication
  • नियंत्रण / Control
  • निर्णयन या निर्यण निर्माण / Decision Making
  • संघठन / Organization
  • बजट / Budget
  • लेखांकन / Accounting
  • लेखा परीक्षा / Audit
  • विपणन प्रबंधन / Marketing Management
  • वस्तुनिष्ट प्रश्न / Objective Question

 सामान्य अंग्रेजी – एमपी पटवारी पाठ्यक्रम

  1. Tense
  2. Modals
  3. Determiners
  4. Article
  5. Voice
  6. Adjective
  7. Adverb
  8. Conjunction
  9. Preposition
  10. Vocabulary

 गणित – एमपी पटवारी सिलेबस

  • प्रतिशत
  • लाभ और हानि
  • साझेदारी / Partnership
  • ब्याज
  • समय और कार्य
  • पाइप और टंकी
  • समय ,चाल और दुरी
  • नाव और धारा
  • ट्रैन
  • सरलीकरण
  • संख्या पद्धति
  • ल.स. एवं म.स.
  • गतांक और करणी
  • औसत
  • अनुपात /समानुपात
  • आयु

एडवांस गणित टॉपिक 

  • क्षेत्रमिति
  • ज्यामिति
  • त्रिकोणमिति
  • उचाई और दुरी
  • बीजगणित

 रीजनिंग – एमपी पटवारी सिलेबस-

 Reasoning – Verbal

  • घन और पासा /Cubes &Dices
  • घड़ी / Clock
  • कैलेंडर / Calendar
  • आकृति की गड़ना / Counting Figure
  • वेन आरेखा / Venn Diagram
  • न्याय निगमन / Syllogism
  • कथन और तर्क / Statement Arguments
  • कथन पूर्वधारणाए / Statement And Assumption
  • कथन निष्कर्ष / Statement And  Conclusion
  • कथन और कार्रवाही / Statement Courses Of Action
  • कारण और परिणाम / Cause And Effect
  • अभिकथन और परिणाम / Assertion And Reason
  • निर्णय लेना / Decision Making
  • आंकड़े पर्याप्तता / Data Sufficiency
  • शब्दकोश / Dictionary
  • अक्षरों का तार्किक क्रम / Jumbling
  • वर्गीकरण / Odd One Out Classification
  • साद्रश्यता परिक्षण / Analogy Or Similarity
  • गणितीय समीकरण / Coded Eduation
  • कोडिंग और डिकोडिंग / Coding & Decoding
  • रक्त संबंध / Blood Relation
  • दुरी और दिशा / Distance  And Direction
  • असमानताए / Inequality
  • नम्बर शृंखला / Number Series
  • लुप्त संख्या / Missing Alphabet Numbers
  • क्रम निर्धारण / Ranking And Order
  • विषम जोड़ी / Odd Pair
  • बैठने की व्यवस्था / Seating Arrangement
  • पहेली / Puzzle
  • मशीन इनपुट – आउटपुट / Machine Input-Output
  • आव्यूह / Matrix
  • युग्म गठन / Pair Formation
  • अक्षर श्रंखला / Letter Series
  • वर्णमाला शृंखला / Alphabetical Series
  • शब्द गठन / Word Formation
  • गणितीय समीकरण / Coded Equation

 Reasoning – Non Verbal

  • कागज काटना और मोड़ना / Paper Cutting & Folding
  • दर्पण एवं जल प्रतिबिम्ब / Mirror & Water Image
  • छिपी हुयी आकृति का पता लगाना / Embedded Figure
  • आकृतियों को पूरा करना / Completion Of Figure
  • एक जैसी आकृतियों का समूह / Grouping Of Figures
  • आकृतियों  की शृंखला / Series
  • आकृतियों  का वर्गीकरण / Classification
  • बिंदु स्थापना / Dot Situation
  • आकृतियों को जोड़ना / Figure Formation

 सामान्य ज्ञान – एमपी पटवारी सिलेबस

  • प्राचीन इतिहास इतिहास
  • आधुनिक भारतीय इतिहास
  • मध्यकालीन का इतिहास
  • भारतीय भूगोल
  • विश्व का भूगोल
  • राजनीति
  • अर्थशास्त्र
  • मध्यप्रदेश सामान्य ज्ञान
  • करेंट अफेयर्स
  • खेल खूँद।

 कंप्यूटर – एमपी पटवारी सिलेबस

  • फंडामेंटल्स ऑफ़ कंप्यूटर
  • माइक्रोसॉफ्ट विंडोज
  • MS वर्ड
  • MS पावर पॉइंट
  • MS Excel
  • MS एक्सेस
  • MS आउटलुक
  • कंप्यूटर शोर्टकट Keys
  • कंप्यूटर Abbreviations
  • कंप्यूटर नेटवर्क
  • टाइप ऑफ़ कंप्यूटर
  • हार्डवेयर एंड सॉफ्ट वेयर
  • इंटरनेट
  • इनपुट एंड आउट पुट डिवाइस
  • कंप्यूटर वायरस
  • वेबसाइट
  • Web Browser
  • Storages डिवाइस
  • कंपोनेंट्स ऑफ़ कंप्यूटर
  • इम्पोर्टेन्ट कंप्यूटर -रिलेटेड टर्म
  • डाडा बेस मैनेजमेंट सिस्टम DBMS

मध्य प्रदेश पटवारी के लिए बेस्ट बुक्स

   सामान्य हिंदी लुसेंट  –  ख़रीदे
सामान्य गणित एवं अभिरुचिअंकगणित आरएस अग्रवाल – ख़रीदे 
कम्प्यूटर विज्ञानं लुसेंट कंप्यूटर – ख़रीदे 
सामान्य ज्ञानलुसेंट सामान्य ज्ञान – ख़रीदे 
मध्यप्रदेश G .Kपुणेकर  – ख़रीदे 
जनरल मैनेजमेंट APL पब्लिकेशन – सामान्य प्रबंधन
सामान्य अंग्रेजीपैरामाउंट वॉल्यूम 1 – सामान्य अंगेजी (हिंदी )
करेंट अफेयर्स रोज़गार निर्माण –यहाँ देखें 

मध्य प्रदेश पटवारी की तैयारी कैसे करे

  • पटवारी का एग्जाम क्लियर करने के लिए आपके अन्दर जोश लगन और ,मेहनत होनी चाहिए
  • पटवारी की तैयारी सिलेबस के अकॉर्डिंग कीजिये सिलेबस में जितना पुछा गया है केवल उसी पर फोकस करे।
  • उन विषयो पर ज्यादा ध्यान दे जिनमे आप कमज़ोर हो और आपने जितना पड़ा है उनका रीविजन करते रहे।
  • मॉक टेस्ट दे और परखे आप कितने तैयार है एग्जाम देने के लिए , MCQ बहुत से ऑनलाइन वेबसाइट है आप वहाँ जाकर दे सकते है।
  • पटवारी  बनने के लिए कंप्यूटर का नॉलेज  होना महत्वूर्ण होता है। आपकी गणित में भी अच्छी कमांड होनी चाहिए।
  • रोजगार निर्माण से करेंट अफेयर्स  की तैयारी करे।

मध्य प्रदेश पटवारी कैसे बने या इसकी तैयारी कैसे करे ,आपको  इस आर्टिकल कल के माध्यम से जितना बताया गया है अगर आप इतना भीं कर लेते है तब यह एग्जाम क्लियर करने से आपको कोई नहीं रोक सकता।

 बिना कोचिंग के पटवारी परीक्षा कैसे पास कर सकते है। 

  • आपको केवल एक रणनीति बनानी है और फिर अपनी रणनीति का पालन करना है।
  • पटवारी परीक्षा की तैयारी के लिए आपको किसी अच्छे लेखक की किताब लेनी चाहिए।
  • पढ़ाई के साथ अपने शरीर को आराम दें।
  • बिना आराम के लगातार पढ़ाई करना आपके शरीर के लिए खतरनाक साबित हो सकता है।
  • आराम करने से आप अपना मन पढ़ाई में लगा सकते हैं।
  • यदि आप सफलता चाहते हैं तो उचित रणनीति के साथ अध्ययन करें।
  • पहले उन विषयों को पढ़ें जो आपको स्कोर करने में मदद कर सकते हैं।
  • मध्यप्रदेश पटवारी का सिलेबस बहुत बढ़ गया है इसलिए सब कुछ पढ़ने की कोशिश न करें। इससे आपका समय बर्बाद हो सकता है।

Leave a Comment