बिना कोचिंग के घर बैठे आईएएस की तैयारी कैसे करें?

बिना कोचिंग के आईएएस की तैयारी कैसे करें :  upsc यूपीएससी एक ऐसा एग्जाम है जिसे हर किसी का सपना होता है कि वह आईएएस आईपीएस आईआरएस ऑफीसर बने और देश की सेवा करें । हो सकता है आपका भी यही सपना हो आप भी सोच रहे हैं कि एक आईपीएस और आईएएस ऑफिसर बने ।

लेकिन जितना आसान हमें यह एग्जाम सुनने में लगता है इससे करना उतना ही कठिन होता है क्योंकि यह बाकी परीक्षाओं से भिन् होता है जिसे करने में कम से कम 1 से 2 साल का समय लग जाता है।

आप भी सोच रहे हैं कि 2024 में  यूपीएससी एग्जाम की तैयारी कैसे करे और जो आपने सपना देखा  है उसे पूरा कैसे करे । इसका confution दूर करने के लिए यह आर्टिकल को पड़ने और समझने का प्रयास जरूर करे ।

परीक्षा पास करना इतना आसान नहीं होता है जितना हम समझते है लेकिन  इसको पास  करना नामुमकिन भी नहीं है।अगर आप  सही मात्रा में कड़ी मेहनत और दृढ़ संकल्प के साथ  इस एग्जाम को क्रैक करने  की ठान लेते है  तो आप इस एग्जाम को निकाल सकते है इसके लिए आपके पास एक सही रणनीति का होना बहुत जरूरी होता है।

बिना कोचिंग के घर बैठे IAS की तैयारी  कैसे करे 2024 – without coaching IAS officer

IAS की तैयारी

IAS officer banne ke liye aapko in tips ko jarur follow karna chahiye

1.  सबसे पहले एग्जाम की जानकारी

2. सिलेबस और पैटर्न की जानकारी

3. पुराने पेपर की जानकारी

4. स्टडी प्लान

5.लिमिटेड सोर्सेस

6. रिवीजन

7.Mock टेस्ट

8. प्रैक्टिस

9. 8 से 9 घंटा रेगुलर पड़ना

1. सबसे पहले UPSC एग्जाम को समझे

इस एग्जाम की तैयारी करने का सबसे पहला चरण इस को समझना है क्योंकि इस एग्जाम को समझने से ही आप यह डिजाइड कर पाते है की तैयारी कैसे करनी होती है यह जानकारी लेने से आपका बेसिक स्ट्रॉन्ग हो जाता है और आपको यह समझ आ जाता है की आपको करना क्या है । इसलिए किसी भी एग्जाम की तैयारी शुरू करने से पहले आप उस एग्जाम की थोड़ी सी जानकारी जरूर रखे  

कोचिंग के बिना यूपीएससी परीक्षा की तैयारी करने वाले उम्मीदवारों को अपनी तैयारी शुरू करने के लिए परीक्षा के बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए।

जैसे upsc एग्जाम तीन चरणों में आयोजित करता है ।

पहला  चरण प्रीलिम्स टेस्ट

यूपीएससी परीक्षा पैटर्न, यूपीएससी परीक्षा पाठ्यक्रम, यूपीएससी अंकन योजना, यूपीएससी परीक्षा के लिए वैकल्पिक पेपर कैसे चुनें आदि। बेहतरीन तरीके से। UPSC 3 चरणों में परीक्षा आयोजित करता है यानी प्रीलिम्स, मेन्स और इंटरव्यू।

2 . UPSC सिलेबस और एग्जाम को समझे

  • सबसे पहली बात तो यह है कि आप अपने सिलेबस को पूरी तरह से जान लें। यदि आप यूपीएससी परीक्षा में उपस्थित होने की योजना बना रहे हैं, तो पाठ्यक्रम की पूरी समझ होना अत्यंत महत्वपूर्ण है।
  • आप पास के किसी भी स्टेशनरी से पाठ्यक्रम की किताब खरीद सकते हैं या फोटोकॉपी करा कर उसे जहाँ आप स्टडी  कर रहे है वहाँ पर चिपका सकते  है । याद रखें, यूपीएससी का पाठ्यक्रम बहुत बड़ा है; हालाँकि, यह उतना जटिल नहीं हो सकता जितना यह लग सकता है।
  • अगर आप UPSC के सिलेबस को ठीक तरीके से समझ जाते है तब आप परीक्षा को क्रैक करने के लिए ,कड़ी मेहनत और समर्पण इन तीनो चीजों से आप upsc परीक्षा को पास कर सकते है।

 3 . पिछले  वर्षों के प्रश्न पत्र देखते रहे

  • अगली तैयारी में आपको  पिछले वर्षों के प्रश्न पत्रों को देखना है और एनालिसिस करना है। किसी भी लोकप्रिय किताब जैसे अरिहंत या दृष्टि से पिछले 10 वर्षों के प्रश्न पत्र देखें और अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्नों के प्रकारों को समझें। इससे आपको पूरे पेपर का ओवरव्यू मिल जाएगा। प्रश्नों को हल करने का प्रयास न करें

4 . ऑनलाइन  रिसोर्सेज की सहायता ले सकते है 

  • यदि आप किसी कोचिंग में नहीं जा रहे हैं, तो यूपीएससी परीक्षा में सफलता प्राप्त करने का सबसे अच्छा तरीका ऑनलाइन वीडियो देखना है। ऑनलाइन र्सोसेस की सहायता से आप upsc की अच्छी खासी तैयारी कर सकते है।
  • यदि आप इन वीडियो से असहज महसूस करते हैं या उन्हें समझने में कठिनाई महसूस करते हैं, तो आप सबसे अच्छा यह कर सकते हैं कि किसी नजदीकी कोचिंग सेंटर पर जाएं और पुस्तक सूची और आवश्यक विवरण प्राप्त करें। यह आपको संसाधनों का सही मिश्रण प्राप्त करने में मदद करेगा।

5 . एनसीईआरटी से शुरुआत करें

  • अब जब आपने भारत की सबसे चुनौतीपूर्ण परीक्षा में बैठने का फैसला कर लिया है, तो एनसीईआरटी के साथ अपनी तैयारी शुरू करें। जब आप एनसीईआरटी पढ़ते हैं, तो पुस्तक को अधिक हाइलाइट न करें।
  • सुनिश्चित करें कि आप केवल उन अत्यंत महत्वपूर्ण बिंदुओं को हाइलाइट करते हैं, जिनमें आंकड़े, संक्षेप, अपवाद, वर्ष आदि शामिल हैं। अपनी एनसीईआरटी को साफ रखें क्योंकि आप अपनी यूपीएससी यात्रा के दौरान कम से कम 3 से 4 बार इसका अध्ययन करेंगे।

6 . NCERT का समय

  • एक और सामान्य प्रश्न जो अधिकांश छात्र पूछते हैं कि मुझे एनसीईआरटी को कितना समय देना चाहिए। यदि आप कक्षा 6 से कक्षा 12 एनसीईआरटी तक शुरू कर रहे हैं, तो आपको सभी विषयों को कवर करने में 2-3 महीने लगेंगे। एक महीने में कम से कम दो विषयों को कवर करने का प्रयास करें।

7 . नोट्स बनाना

  • यूपीएससी आईएएस का सिलेबस बहुत बड़ा है इसलिए छोटे नोट्स बनाना महत्वपूर्ण बिंदुओं का रिवीजन करने में मदद करते हैं।
  • हर टॉपिक्स के नोट्स शार्ट हो जो आपको समझ में आय ऐसा नहीं करना है की पूरी बुक ही छापनी है ,एक बुक को कम से कम बार बार पढे और उनसे ही शार्ट नोट्स बनाले। 

8 . द हिंदू डेली कवर करना या करंट से जुड़े रहना 

  • एनसीईआरटी के अलावा दैनिक द हिंदू पढ़ने की आदत डालें। द हिंदू में एक कॉलम है जिसका नाम है “विज्ञापन”। छात्रों के लिए मुफ्त सत्र आयोजित करने वाले कोचिंग संस्थानों की एक सूची होगी।
  • एनसीईआरटी पढ़ते समय, सबसे अच्छा अभ्यास यह है कि आप अपनी सभी शंकाओं को एक छोटी डायरी में नोट कर लें।
  • इन निःशुल्क सत्रों के दौरान, अपने संदेह पूछें और शिक्षकों से बातचीत करें। यदि आप त्वरित उत्तरों की तलाश कर रहे हैं, तो अपने विषय को Unacademy वेबसाइट पर टाइप करें, जो सभी उत्तरों को दर्शाएगा।

 9 . बेस्ट बुक का चयन करे

एक बार जब आप अपने बेसिक्स को मजबूत कर लेते हैं, तो प्रत्येक पेपर के लिए मानक पुस्तकें पढ़ें। इसके लिए आप टॉपर द्वारा बताई गयी किताबो की सूचि बना सकते है नहीं तो आप इस पोस्ट के माध्यम से UPSC book list जरूर check करे देख सकते है।

यहां उन किताबों की सूची दी गई है, जिन पर आप जा सकते हैं

  • एम. लक्ष्मीकांत द्वारा सिविल सेवा परीक्षाओं के लिए भारतीय राजनीति
  • नितिन सिंघानिया (संस्कृति) द्वारा भारतीय कला और संस्कृति
  • ऑक्सफोर्ड पब्लिशर्स द्वारा ऑक्सफोर्ड स्कूल एटलस (भूगोल)
    गोह चेंग लियोंग (भूगोल) द्वारा प्रमाणपत्र भौतिक और मानव भूगोल
  • रमेश सिंह (अर्थव्यवस्था) द्वारा भारतीय अर्थव्यवस्था
  • वित्त मंत्रालय (अर्थव्यवस्था) द्वारा आर्थिक सर्वेक्षण
  • इंडिया ईयर बुक (करंट अफेयर्स)
  • राजीव अहीर (आधुनिक भारत) द्वारा आधुनिक भारत का संक्षिप्त इतिहास
    MHE (CSAT) द्वारा सामान्य अध्ययन पेपर 2 मैनुअल
    कक्षा 6-12वीं एनसीईआरटी पुस्तकें

10 . अभ्यास बहुत जरुरी है

  • तैयारी का अगला चरण अभ्यास होगा। साथ ही उत्तर लिखने का भी अभ्यास करें। सुनिश्चित करें कि आप सीएसएटी के लिए उचित समय दे रहे हैं जो प्रकृति में योग्यता है, जिसमें आपको मेन्स के लिए
  • qualification प्राप्त करने के लिए 66 से अधिक अंक प्राप्त करने होंगे। इसलिए, तैयारी के लिए मॉक टेस्ट और टेस्ट सीरीज़ सबसे अच्छा स्रोत हो सकते हैं। तो, एक अच्छी टेस्ट सीरीज़ में शामिल हों जो GS पेपर और CSAT की तैयारी में आपकी मदद करेगी।

11 . क्या दूसरा प्रयास इसके लायक है?

  • अधिकांश छात्र आमतौर पर यह प्रश्न पूछते हैं। UPSC भारत की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक है, जिसके लिए कम से कम 2-3 वर्षों की समर्पित तैयारी की आवश्यकता होती है।
  • अगर आपको लगता है कि आप इसे पहली बार में नहीं बना पाएंगे, तो हमेशा एक दूसरा मौका होता है। इसका मतलब यह नहीं है कि आप कमजोर या सक्षम हैं – आपके अंक ही बताते हैं कि आपको और तैयारी की जरूरत है।

12 .उत्तर-लेखन कौशल

  • आप अपने उत्तर कैसे प्रस्तुत करते हैं, यह वास्तव में आपके समग्र अंकों को प्रभावित करता है। अपने उत्तर लेखन कौशल को बढ़ाने का सबसे अच्छा तरीका है उत्तर लिखने का नियमित अभ्यास करना।
  • एक बार जब उत्तर लिखना आपकी आदत बन जाती है, तो बिना किसी गड़बड़ी के गुणात्मक उत्तर तैयार करना आपके लिए आसान हो जाता है। एनसीईआरटी के पीछे कई प्रश्न हैं, जिनका आपको बिना किताब की मदद के रोजाना अभ्यास करना चाहिए। इससे आपको समझ आ जाएगी कि उत्तर कैसे लिखना है।

13 . टेस्ट सीरीज ज्वाइन करें

  • टेस्ट सीरीज बहुत महत्वपूर्ण है जितना आप टेस्ट सीरीज लगाएंगे उतनी ही आपकी तैयारी मज़बूत बनती  जाएगी। अगर आपको लग लग रहा है की  तैयारी अच्छी चल रही है तो आप हर हफ्ते में 2 -3 टेस सीरीज जरूर लगाए।

IAS प्रीलिम्स की तैयारी कैसे करे ? tips

  • UPSC प्रीलिम्स की तैयारी के लिए आपको केवल प्रीलिम्स से कम से कम 3 महीने पहले शुरू होनी चाहिए। प्रारंभ में, आपको उन विषयों से शुरुआत करनी चाहिए जो प्रारंभिक और मुख्य पाठ्यक्रम दोनों में ओवरलैप करते हैं।
  • प्रीलिम्स के लिए कम से कम 40-45 टेस्ट का अभ्यास करना होता है। कोई भी अच्छे टेस्ट का विकल्प चुन सकते है। जो जितना अधिक MCQ का अभ्यास करेगा, उसके परीक्षा पास करने की संभावना उतनी ही अधिक होगी।
  • प्रीलिम्स में 50% प्रश्न करेंट अफेयर्स से होते हैं, इसलिए करेंट अफेयर्स की संपूर्ण तैयारी जरूरी है।
  • इसके अलावा, टॉपर्स के टॉक वीडियो देखते समय, परीक्षा को क्रैक करने के लिए अपनी व्यक्तिगत रणनीति तैयार करने के लिए उनके द्वारा बताई गई रणनीतियों को एक नोटबुक या एक्सेल शीट में लिख सकते है और उनके द्वारा बताई गयी क्रैक की रणनीति आज़मा सकते है।

IAS मैन्स की तैयारी कैसे करे ? tips

  • यूपीएससी के लिए सर्वश्रेष्ठ समाचार पत्र की सदस्यता लें; सबसे अच्छा और सुरक्षित विकल्प द हिंदू है।
  • नोट्स बनाते समय हर विषय की अलग-अलग कॉपी बनाएं।
  • केवल करंट अफेयर्स के लिए एक कॉपी बनाएं।
  • एक वैकल्पिक विषय के बारे में सोचें जिसे आप मेन्स परीक्षा के लिए चुनेंगे।
  • प्रत्येक प्रश्न का उत्तर 150-300 शब्दों में लिखना है। इसलिए, मुख्य परीक्षा के लिए उत्तर लिखने का अभ्यास अनिवार्य है और इसे निम्न के माध्यम से प्राप्त किया जा सकता है।
  • उचित नोट्स तैयार करने के साथ-साथ नियमित परीक्षा लेना।
  • माइंड मैप्स – इससे उम्मीदवारों को एक विषय में उप-विषयों को जोड़ने और बिंदुओं को आसानी से याद करने और याद रखने में मदद मिलेगी।

IAS इंटरव्यू की तैयारी कैसे करें? tips

आपके नाम के अर्थ से लेकर आपके गृहनगर के प्रसिद्ध तत्व क्या हैं, वह सब कुछ जो आपने डीएएफ में भरा है, साक्षात्कार के दौरान पूछा जा सकता है। इसलिए, फॉर्म को कई बार पढ़ें, जो कुछ भी पूछा जा सकता है उसे लिख लें और उनमें से प्रत्येक प्रश्न के संक्षिप्त उत्तर तैयार करें।

  1. मॉक इंटरव्यू – सबसे पहले जितना हो सके उतना मॉक इंटरव्यू दे फाइनल इंटरव्यू से पहले मॉक-इंटरव्यू के साथ रिहर्सल करने से आपको गलतियों से बचने में मदद मिलेगी। विशेषज्ञ सलाहकार और मित्र इसमें आपकी सहायता कर सकते हैं।
  2. करेंट अफेयर्स से जुड़े रहे – लगभग तीन महीने के करंट अफेयर्स को इस तरह से तैयार करें कि आप वर्तमान विषयों से संबंधित प्रश्नों का Short तरीके से उत्तर दे सकें। हर प्रश्नों का उत्तर देते समय अपना Positive दृष्टिकोण रखे।
  3. situational प्रश्नों के उत्तर में सावधानी बरते – आपको पता होना चाहिए कि एक आईएएस/आईपीएस/आईएफएस अधिकारी की कानूनी शक्तियां और क्षमताएं क्या होती हैं।
  4. पूछे जाने वाले प्रश्नों का उत्तर इस तरह से दिया जाना चाहिए कि आप स्थिति से निपटने के लिए बाहर नहीं जा रहे हैं। आपके उत्तर उस संवैधानिक शक्ति के दायरे में होने चाहिए जो आपकी प्रोफ़ाइल रखती है।
  5. व्यवहारिक प्रश्नों का उत्तर में सावधानी रखे – प्रश्नों का उत्तर देते समय अपने शांत और रचना को बनाए रखें, आश्वस्त रहें, और यदि आपको कोई उत्तर नहीं आता है तो इधर-उधर न घूमें।आप बस प्रश्न को पास कर सकते हैं और कह सकते हैं, “
  6. मुझे इस प्रश्न का उत्तर देने के लिए इस पर और अधिक पढ़ना होगा, मुझे इसे अभी पास करना होगा”।
  7.  शब्दों के चुनाव में सावधानी बरतें – साक्षात्कार पैनल इस बात में अधिक रुचि रखता है कि आप कैसे बोल रहे हैं और अपने विचारों को रखने के लिए शब्दों का चयन; इसलिए, प्रश्नों का उत्तर देते समय स्पष्ट रहने का प्रयास करें।
  8. झूठ मत बोले – यह एक साक्षात्कार के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण रूल में से एक है! झूठी जानकारी के साथ अपने उत्तरों को गढ़े नहीं, सबसे अधिक संभावना है कि वे जान जाएंगे कि आप झूठ बोल रहे हैं और वहीं आपको पकड़ लेंगे!
  9.  साफ-सुथरे कपड़े पहनें – आपको साक्षात्कार के दिन प्रस्तुत करने योग्य दिखना चाहिए, इसलिए formal कपडे पहनें। पुरुषों के लिए, एक हल्के रंग की शर्ट और गहरे रंग की पतलून को एक पेशेवर रूप देना चाहिए।महिला उम्मीदवारों के लिए एक साधारण चूड़ीदार या साड़ी की सिफारिश की जाती है।
  10.  दस्तावेज़-जांच करें – अंतिम समय की हड़बड़ी से बचने के लिए पहले दस्तावेज़-जांच करना ज़रूरी है। सुनिश्चित करें कि आपके पास सभी आवश्यक दस्तावेज़ तैयार हैं और एक फ़ाइल में इकट्ठे हैं।
  11.  इंटरव्यू से पहले अच्छी नींद लें – इंटरव्यू के बारे में बहुत अधिक तनाव  न ले , इससे आपकी कार्यक्षमता कम हो सकती है। रात को अच्छी नींद लें और अनावश्यक तनाव लेने से बचें!
  12. घर बैठे IAS की तैयारी  – पोस्ट के  माध्यम से आप घर बैठे अच्छी रणनीति बना सकते है और अपनी तैयारी अच्छे से कर सकते है और एक सलाह आपको देना चाहूंगी की आप अपनी तैयारी करते समय इधर -उधर  न भटके और सबसे जरुरी बात यह है।
  13. की  तैयारी करते समय यह ध्यान रखना है की आपको क्या पड़ना है और क्या छोड़ना है क्योकि इसका सिलेबस काफी बड़ा है इसलिए पूरा कवर करने के  चक्क्ड़  में अनावश्यक चीजों को न पड़े।   इसके लिए आप टॉपर की मदत ले सकते है.

2 thoughts on “बिना कोचिंग के घर बैठे आईएएस की तैयारी कैसे करें?”

Leave a Comment